KAL KA SAMRAT NEWS INDIA

हर नजरिए की खबर, हर खबर पर नजर

Home » आईआईएम उदयपुर में दो वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत, 345 विद्यार्थियों के साथ अब तक का सबसे बड़ा बैच

आईआईएम उदयपुर में दो वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत, 345 विद्यार्थियों के साथ अब तक का सबसे बड़ा बैच

Spread the love

आईआईएम उदयपुर में दो वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत, 345 विद्यार्थियों के साथ अब तक का सबसे बड़ा बैच

संपादक के लिए सारांश:

  1. आईआईएम उदयपुर में 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत
  2. फिलिप्स अप्लायंसेज, इंडियन सब-कॉन्टिनेंट के एमडी और सीईओ गुलबहार तौरानी मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए उद्घाटन समारोह में

उदयपुर, 4 जुलाई, 2022- इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर ने अपने 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत के लिए उद्घाटन समारोह का आयोजन किया। यह प्रोग्राम इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर का एक फ्लैगशिप प्रोग्राम है। 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच में 345 छात्रों ने दाखिला लिया है और इस तरह यह अब तक का सबसे बड़ा बैच है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर के डायरेक्टर प्रो. जनत शाह ने की, जबकि फिलिप्स अप्लायंसेज, इंडियन सब-कॉन्टिनेंट के एमडी और सीईओ गुलबहार तौरानी मुख्य अतिथि के तौर पर उद्घाटन समारोह में शामिल हुए। तौरानी की गिनती इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्तियों में होती है और उन्होंने अपने विस्तृत करियर में बिजनेस हेड, मार्केटिंग डायरेक्टर और वाइस प्रेसिडेंट के रूप में विभिन्न लीडरशिप पदों का दायित्व संभाला है। उनका नजरिया है- ‘लोग सबसे पहले’, और अपने इसी विजन के साथ उन्होंने छात्रों के साथ अपनी अनुभवात्मक यात्रा साझा की।

इस अवसर पर गुलबहार तौरानी ने कहा, ‘‘जीवन देने और लेने का ही दूसरा नाम है। लेकिन जब चुनने का मौका आए तो सावधानी से चुनें। हम अक्सर अपनी विफलताओं के लिए बाहरी कारणों को जिम्मेदार ठहराते हैं, जबकि हमें अपने भीतर ही उन कारणों को तलाशना चाहिए। अगर हम ऐसा करेंगे, तो हम अपने आप को उस तरह से विकसित करने में मदद कर सकते हैं, जैसा कि हम बनना चाहते हैं। हमें आईआईएम टैग को कभी भी हल्के तौर पर नहीं लेना चाहिए। यह एक नई शुरुआत है, आपके जीवन का एक नया अध्याय है, इसका अधिकतम लाभ उठाएं। कोर्स के दौरान जो वक्त आप यहां गुजारते हैं, उसका इस्तेमाल कुछ नया सीखने के लिए करें। एक मजबूत बुनियाद के लिए थ्योरी भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। विपत्तियों या चुनौतियों को कभी भी समस्या के रूप में न लें, बल्कि इन्हें ऐसे अवसरों के रूप में स्वीकार करें, जिनकी सहायता से आप अपना और बेहतर विकास कर सकते हैं।’’

उन्होंने तीन महत्वपूर्ण बिंदुओं के साथ अपनी बातचीत खत्म की-

  1. लोगों का स्टेटस चाहे जो भी हो, उनका सम्मान करने की आदत डालें और इस तरह आप एक नेचुरल नेटवर्कर बन जाएंगे।
  2. आईआईएमयू में बिताए जाने वाले हर पल को भरपूर जीएं। याद रखें, ये पल कभी वापस नहीं आएंगे, ढेर सारे दोस्त बनाएं और यादों का पिटारा संजोएं
  3. क्या सीखना है और क्या नहीं, इस बारे में दिमाग की खिड़कियां खुली रखें (नई चीजों को अपनाएं और उनके अनुकूल खुद को एडजस्ट करने की कोशिश करें)

अपने स्वागत भाषण के दौरान इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर के डायरेक्टर प्रो. जनत शाह ने नए बैच के सभी छात्रों को बधाई दी और आईआईएम उदयपुर जैसे प्रमुख संस्थान के साथ अपनी परिवर्तनकारी यात्रा शुरू करने के लिए उनका स्वागत किया।

हैं-

Term I

साथ ही चैतन्य पंसारे, शांतनु शर्मा, देवांशु मनोज, गौरव मित्तल, अमरजीत सिंह, अंकित फोखले, सागर यादव, अभिषेक नाग, यश राजेश, हर्षित भूपतिराजू, प्रमोद कुमार, हर्षल पाटिल, नवदीप गोयल, जय योगेश और किरण मेहता और यशवी नाहर को डायरेक्टर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया।

समारोह का संचालन 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के चेयरपर्सन प्रो. प्रकाश सत्यवगीश्वरन ने किया और प्रो. अमीश दुगर ने धन्यवाद व्यक्त किया।

You may have missed