KAL KA SAMRAT NEWS INDIA

हर नजरिए की खबर, हर खबर पर नजर

Home » SI के बीमार बेटे के जीवन को बचाने के लिये, DGP यू आर साहू की मार्मिक अपील,

SI के बीमार बेटे के जीवन को बचाने के लिये, DGP यू आर साहू की मार्मिक अपील,

Spread the love

SI के बीमार बेटे के जीवन को बचाने के लिये, DGP यू आर साहू की मार्मिक अपील,

आमतौर पर ये सुनने को मिलता है कि पुलिस मेँ सवेदनाओं का अभाव होता है। पुलिसवालों मेँ करुणा, दया, सहानुभूति नहीं होती। मगर कुछ इंसान ऐसे भी होते हैं जो प्रदेश के सबसे बड़े पद पर पहुँचने के बाद भी अपने भीतर दूसरे इंसान के प्रति संवेदना, करुणा, दया और सहानुभूति ना केवल रखते हैं, बल्कि उसे वक्त आने पर साबित भी करते हैं। ऐसे ही हैं राजस्थान के पुलिस महानिदेशक आईपीएस उत्कल रंजन साहू।
अपने प्रचार से दूर रह खामोशी से काम करने वाले श्री साहू की एक मार्मिक अपील ने पुलिस महकमे को ही नहीं, बल्कि समाज को एक बड़ा संदेश दिया है। सदा से ही मीडिया की सुर्खियों से दूर रहने वाले श्री साहू श्रीगंगानगर मेँ एसपी रहे हैं। वो तब भी खामोशी से ठोस काम करने वाले अधिकारी थे, और आज भी, जब वो इस प्रदेश के सबसे बड़े पुलिस अधिकारी हैं।
पुलिस महानिदेशक श्री साहू ने भरतपुर रेंज मेँ पदस्थापित एसआई नरेश शर्मा के एक वर्ष आठ माह के बीमार बेटे की आर्थिक मदद की अपील जारी की है। हृदयांश नामक यह बच्चा एक दुर्लभ बीमारी से पीड़ित है। दुर्लभ बीमारी की वजह से बच्चे की जान को खतरा है। इस बीमारी के इलाज के लिये बच्चे के जोल्जेंस्मा नामक इंजेक्शन इंप्लांट किया जाना है। इस इंजेक्शन को इंप्लांट करने की अधिकतम उम्र 24 माह अर्थात दो साल है। मतलब ये कि बच्चे को ये इंजेक्शन चार माह के भीतर ही लगना है। इस इंजेक्शन की कीमत 17 करोड़ 50 लाख रुपए हैं। महानिदेशक यू आर साहू ने एक लिखित अपील के माध्यम से पुलिस परिवार से सहानुभूति पूर्वक इस बच्चे की जीवन रक्षा के लिये आर्थिक मदद का आग्रह किया है।
श्री साहू ने इसके लिये राजस्थान के सभी एसपी को ये अपील भेजी है। इस अपील मेँ उस बैंक का नाम, खाता संख्या सहित पूरा विवरण है, जिसके माध्यम से उस बच्चे को आर्थिक मदद पहुंचाई जा सकती है। श्री साहू की ओर से ये अपील कल 27 फरवरी को जारी की गई है। शायद ये पहली दफा होगा जब किसी पुलिस महानिदेशक ने पुलिस कर्मी के बच्चे की जान बचाने के वास्ते इस प्रकार की अपील जारी की है। उम्मीद की जा सकती है कि श्री साहू का ये सकारात्मक कदम अपनी मंजिल तक पहुंचेगा और बच्चे को जरूरी इंजेक्शन वक्त से पहले इंप्लांट हो जायेग

Skip to content